भोजपुरिया बानी हमरा भोजपुरिये भावेला

कभी कभी हमरा दिल में खयाल आवेला.
भोजपुरिया बानी हमरा भोजपुरिये भावेला,

अंगिका, वज्जिका, मगही मैथिलि सब हमरे नगीना बा,
भोजपुरी जइसन मिश्री बोलला में नाही कवनो दाम बा,
भोजपुरिया के सफ़र शुरू भी भोजपुरिये से होखी,
कोस कोस पर बोली बदली पर माई त भोजपुरिये होखी,
जमीन के टुकड़ा हो गइल पर बोली सब उहे गावेला,
कभी कभी हमरा दिल में खयाल आवेला.

शिक्षा के भंडार में देखीं चाणक्यन के लाइन लगल बा,
आपन चमक लुटावे खातिर सबका में पुरुषार्थ जगल बा,
एकर आन मिटावे खातिर आ जाये चाहे केतनो रावण,
कबहूँ ना मिटी हुंकार जगत में बाटे धरती एतना पावन,
जे इंहा जेतना देबेला ऊ एकरा से ओतने पावेला.
कभी कभी हमरा दिल में खयाल आवेला.

कभी कभी हमरा दिल में खयाल आवेला.
भोजपुरिया बानी हमरा भोजपुरिये भावेला,

Writer from Bihar – अभय कृष्ण त्रिपाठी – Abhay Tripathy

abhay tripathy writer biharplus abhay tripathi

If you are a writer from bihar and want to show your talent here then mail us your writeup in any language(hindi, english, bhojpuri, maithily, magahi etc. with your good looking photograph to biharplus@gmail.com and cc to info@biharplus.in