हमारा बिहार

Like Biharplus Official Page on Facebook – biharplus facebook official page

designing services in patna, website designing work in patna, creative services in patna, patna designing house, brochure designing work in patna, brochure designing work in new delhi, advertisement designing in new delhi, advertisement desinging in patna

Contact us for Designing services of Print, web, flash presentations, emailer, brochure designing. visit our website www.octopusinc.in

wedding photographer in patna, wedding photographer in new delhi, freelance wedding photographer in patna, freelance wedding photographer in new delhi, wedding photographer in bihar, bihar wedding photographer, bihar freelance wedding photographer, commercial photographer in patna, commercial photographer in bihar

We provide Pre wedding, post wedding and wedding photography services in patna and new delhi. Click on the Banner to see our work.

हमारा बिहार

सतयुग में जब देव-दानव द्वारा समुद्र मंथन हुआ। उस मं मथानी के रूप में जिस पर्वत मंदागीरी का प्रयोग हुआ वह बिहार है।

त्रेता में राम और लक्ष्मण को अवध से लाने वाले विष्वामित्र ऋषि की तपोभूमि और राजा जनक द्वारा आयोजित सीता स्वयंवर में आकर मॉं सीता का वरन राम ने किया वह भूमि बिहार है।

द्वापर में जिस जरासंध ने भगवान कृष्ण की मथुरा पर आक्रमण करके अपने पराक्रम का परिचय दिया उस जरासंध की भ्ूमि बिहार है।

जिस चम्पारण से महात्मा गांधी भारतीय स्वतंत्रता संग्राम का शंखनाद किया वह भूमि बिहार है।

hamara bihar, our bihar, love u bihar, love you bihar, bihar map, bihar tricolor, bihar wallpaper

स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति देने वाला यह भूमि बिहार है।

जपान से वर्मा तक बौद्ध धर्म के अनुयायी आज संसार में है। भगवान बुद्ध की ज्ञानार्जन भूमि बिहार है।

हूजुरे अकरम-सल्लाह अलैहे स्सलम ने एक इरषाद में फरमाया कि मुसलमानों तुम्हे इल्म हासिल करने चीन जाना हो तो जाओं परन्तु चीन वालों को इल्म हासिल करने के लिए जहॉं जाना पड़ता था वह नालन्दा विष्वविद्यालय तो बिहार में था।

बिहार के एक कवि ने कहा- थे दिगम्बर भेष में जब जंगलों में घूमते उस समय इस पावन भूमि में अट्टालिका थी शोभती कैसे भूल जाऊॅं मै अपने बिहार को जिसने दिया है ज्ञान सारे संसार को इस दुनिया में सम्राट अषोक के समान हुआ है कोई बादषाह जिसने जंगे मैदान में यह एलान किया हो िक वह मुस्तकवल में कभी बाजूये शमषीर नही होगा और जिसने वर्षो तक हुकूमत कर के दिखा दिया यह सम्राट अषोक की भूमि बिहार हैै।

-काषीनाथ शर्मा
बड़ी खगौल ब्रहा्रस्थान
खगौल, पटना।