Ek Mulakat – Film Actor Sagar Singh Sintu

एक मुलाकात फिल्म अभिनेता सागर सिंह (सिन्टू ) जी के साथ I

अगर मन में ठानी हुई बात और हौशला बुलंद हो तो रास्ते में हुई हर दीवार को आसानी से गिराया जा सकता है, इन्ही का एक उदाहरण हैं सागर सिंह (सिन्टू ) I सागर सिंह का जन्म 1 मार्च 1987,में हुआ झारखण्ड के धनबाद जिले में हुआ था और वो एक मध्यवर्गीय परिवार से ताल्लुकात रखते थे I सागर सिंह (सिन्टू ) का मन शुरू से ही पढाई के साथ- साथ फिल्मों में भी रहा जिसका नतीजा आज आपके सामने हैं I थिएटर से अपनी अभिनय की पारी शुरुआत करने वाले सिन्टू ने 2 साल का प्रशिक्षण राजस्थान में ,1 साल का प्रशिक्षण नई दिल्ली एवं 2 साल का प्रक्षिशण कोलकाता श्रीमती उषा गांगुली जी के थिएटर में लिया I आज इसी के नतीजे हैं की सागर सिंह आज बड़े पर अपना दश्तक दे चुके हैं I इनकी पहली फिल्म “प्यार के रंग लाल होला” ने दर्शकों के बिच खूब पसंद की गई एवं इन्हे भी दर्शकों का भरपूर प्यार मिलने लगा I कुछ दिनों पहले सागर जी की नई फिल्म भोजपुरी फिल्म “मिलन अभी आधा अधूरा बा” का शूटिंग कर मुंबई आएं हैं जहां उनसे एक ख़ास मुलाकात हुई, आइये जानते हैं उनका सफर उन्ही की जुबानी I

प्रश्न १ .सबसे पहले सागर जी आप अपने बारे में बताइए ?

उत्तर-सबसे पहले भोजपुरी एवं फ़िल्मी जगत से जुड़े तमाम दर्शकों को प्रणाम कहना चाहुँगा, क्यूंकि आज मैं जो कुछ भी हु इन्ही के आशीर्वाद एवं प्यार के बदौलत हु I मेरा जन्म 1 मार्च 1987,में झारखण्ड के धनबाद जिले में हुआ और मैं एक मध्यवर्गीय परिवार से ताल्लुकात रखता था, हमारे पिताजी का एक छोटा सा व्यवसाय हुआ करता था I मेरी सभी शिक्षा धनबाद में हुई एवं साथ-साथ अभिनय में भी मेरा मन शुरू से ही रहा I

प्रश्न २ .आपने अपनी अभिनय का प्रशिक्षण कहा से लिया ?

उत्तर -मैंने 2 साल का प्रशिक्षण राजस्थान,1 साल का प्रशिक्षण देल्ही एवं 2 साल का प्रक्षिशण कोल्कता में श्रीमती उषा गांगुली जी के थिएटर ग्रुप में लिया I

प्रश्न ३ .अपने पहली फिल्म के बारे में बताइये I

उत्तर -मेर पहली फिल्म काशिफ रज़ा के निर्देशन में बनी “प्यार के रंग लाल होला “था जिन्हे फिल्मेनिया फिल्म फैक्ट्री के बैनर तले बनाई गई थी जिनके निर्माता अजिताभ तिवारी जी थे I

प्रश्न ४ आज के दौर में बन रही फिल्में जहां पारिवारिक के नाम पर अश्लीलता को पड़ोस रहे हैं आप इस मसले पर क्या कहना चाहेंगे ?

उत्तर -मैं पहले की जमानो में बनी फिल्मों की बात करते हैं उस वक़्त की भोजपुरी फिल्में पूर्ण रूप से पारिवारिक होती होती थी जिन्ह देखने को सिनेमा परिषर में भीड़ एकत्रित मिलते थे लेकिन आज का समय यह है की आज के निर्देशक भोजपुरी पारिवारिक के नाम पर अश्लीलता पड़ोस रहे हैं जिसका मैं शख्त खिलाफ हु ,मेरी पहली फिल्म “पयार के रंग लाल होला” एक पूर्ण रूप से सामाजिक एवं पारिवारिक फिल्म थी I जिन्हे दर्शकों ने खूब सराहा I आज के दर्शक भी अच्छी फिल्में देखना चाहते हैं जिन्हे अपने मिटटी की खुशबु सूंघने को मिले I

प्रश्न ५ -अपनी आने वाले फिल्म के बारे में बताइए ?

उत्तर -मेरी आने वाली फिल्म “मिलान अभी आधा अधूरा बा” जल्द ही प्रदर्शित होने वाली है, जिसका निर्माण नटरंग एंटरटेनमेंट एवं आयशा आलिशबा के बैनर टेल हुई है जिसके प्रस्तुतकर्ता फिल्मेनिया फिल्म फैक्ट्री हैं एवं निर्माता अजिताभ तिवारी जी हैं, निर्देशक मोहम्मद हबीब हैं I आनेवाली मेरी कुछ हिंदी फिल्में भी हैं जिनकी शूटिंग मैं जल्द करने वाला हु, जिसमे एक आखरी रात,एक कहानी ऐसी भी,लास्ट 24 घंटे एवं बनारसी पान प्रमुख हैं जिनका निर्देशन संजय सरन जी कर रहे हैं I

प्रश्न ६ – “मिलान अभी आधा अधूरा बा” के कहानी एवं अपने किरदार के बारे में बताइए ?

उत्तर -इस फिल्म की कहानी पूर्ण रूप से पारिवारिक एवं सामाजिक है जिसमे किसी भी तरह के अश्लीलता का उपयोग नहीं किया गया है I इस फिल्म में मैं एक पुलिस अफसर के किरदार में हु जो अपना काम पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा से करता है, जो अपने फ़र्ज़ के लिए कुछ भी करने को तैयार रहता है I इस फिल्म में हमारे अन्य कलाकारों में भावना सिंह,मिथुन यादव,शिल्पा नाग,पंकज यादव ज्योति मिश्रा,श्रेया शर्मा, अनुज प्रसाद,आनंद कुमार,संजय दत्ता एवं अजिताभ तिवारी नजर आएंगे

I प्रश्न -एक आखरी सवाल आने वाले नए कलाकारों को आप क्या कहना चाहेंगे I

उत्तर -मैं सिर्फ यही कहना चाहूंगा की आप अपने मेहनत एवं परिश्रम से आगे बढे और अपने लक्ष्य को पाएं धन्यवाद एवम आप सभी दर्शकों को दीपावली एवम छठ पूजा की ढेर सारी शुभकामनायें I फिल्म का प्रदर्शन जल्द ही नवम्बर में पुरे बिहार एवम झारखण्ड में एक साथ होने जा रही है I